गणेशोत्सव के दौरान सजावट सामग्री की कीमत में भारी बढ़ोतरी

मुंबई, महंगाई की मार निरंतर जारी है। गणेशोत्सव के दौरान महंगाई फिर एक बार बढ़ गई है और गणेश जी की मूर्ति के साथ-साथ सजावट सामग्री की कीमत में भारी बढ़ोतरी हुई है। सजावटी सामग्रियां पिछले साल की तुलना में १५ से २० फीसदी तक महंगी हैं इसलिए बाप्पा के भक्तों को सजावट के लिए अपनी जेब ढीली करनी पड़ेगी।
बता दें कि दो दिन बाद भक्तों के प्रिय बाप्पा का आगमन हो रहा है। इस साल मूर्तियों समेत सजावटी सामग्रियों में १५ प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। गणेश प्रतिमाओं की कीमतें होश उड़ानेवाली हैं। मूर्तिकारों का कहना है मूर्तियां खरीदते समय मोलभाव किया जा रहा है। पांच रत्नों वाले गणपति मूर्ति की कीमत में ५०० रुपए से १,००० रुपए कम करने की मांग भक्त कर रहे हैं। लेकिन खर्च सहन न होने के कारण मूर्तियों की कीमत में दो सौ से तीन सौ रुपए कम किए जा रहे हैं।
इस साल डेढ़ फीट की गणेश प्रतिमा तीन हजार रुपए में मिल रही है। पिछले साल इसी मूर्ति की कीमत २,७५० रुपए थी, वहीं वर्ष २०२१ में उसी मूर्ति की कीमत २,५०० रुपए हुआ करती थी। इसके अलावा जिस पांच फुट की गणेश प्रतिमा की कीमत वर्ष २०२१ में ३२ हजार रुपए थी, वहीं पिछले वर्ष उसी मूर्ति की कीमत ३५ हजार रुपए थी और अब इस साल उसी मूर्ति की कीमत ४० हजार रुपए पहुंच गई है। मूर्ति की कीमत हर साल बढ़ती जा रही है। गणेश मूर्तिकार अरुण बोरिटकर ने कहा कि पीओपी, रंग, श्रमिक वेतन, परिवहन लागत और हीरे की सजावट की दर में वृद्धि के कारण कीमतें बढ़ रही हैं। उन्होंने कहा कि एक से दो फीट की मूर्ति ज्यादा पसंद की जा रही है। मूर्तिकार ने यह भी कहा कि केवल वे लोग ही इन मूर्तियों को खरीद रहे हैं, जो डायमंड से सजी मूर्तियां खरीद सकते हैं। ()