हीटवेव का कहर, 9 ने तोड़ा दम

मुंबई: महाराष्ट्र के विदर्भ क्षेत्र में भीषण गर्मी पड़ रही है। विदर्भ के ज्यादातर हिस्सों में पारा 42 डिग्री सेल्सियस से ऊपर है। विदर्भ में पिछले कुछ दिनों में लू के कारण कुल नौ लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें नागपुर शहर में छह, भंडारा जिले में दो और गोंदिया जिले में एक शामिल है।
मौसम विभाग ने बताया कि विदर्भ के यवतमाल में रविवार को अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया, जो सामान्य से लगभग चार डिग्री सेल्सियस अधिक है।
2 जून को विदर्भ में अधिकतम तापमान-
अकोला- 42.8 डिग्री सेल्सियस
अमरावती- 42.6 डिग्री सेल्सियस
चंद्रपुर- 43.4 डिग्री सेल्सियस
यवतमाल- 45.0 डिग्री सेल्सियस
कहां कितनी मौतें?
रिपोर्ट्स के मुताबिक, शुक्रवार दोपहर करीब 1 बजे नागपुर के मेकोसाबाग पुल के नीचे एक 40 वर्षीय अज्ञात व्यक्ति बेहोशी की हालत में मिला। पुलिस ने उसे अस्पताल ले गई, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। एक अन्य घटना में खोबरागड़े चौक पर एक 40 वर्षीय व्यक्ति बेहोश पाया गया। डॉक्टरों ने उसे भी मृत घोषित कर दिया।
इसके अलावा, शुक्रवार शाम करीब छह बजे मोमिनपुरा इलाके में 60 वर्षीय व्यक्ति का शव मिला। ऑटोमोटिव चौक मेट्रो स्टेशन के पास फुटपाथ पर 35 वर्षीय अज्ञात व्यक्ति का शव मिला। 45 वर्षीय एक शख्स शनिवार सुबह करीब साढ़े 10 बजे घोटाल-पांजरी मार्ग पर मृत मिला, जबकि 65 वर्षीय बुजुर्ग का शव नारी मेट्रो स्टेशन परिसर में मिला। इन लोगों की मौत लू लगने से होने की आशंका है।
वहीँ, भंडारा जिले के लाखांदूर तालुका में खेत में काम करते समय भास्कर पंढरी भुते (40) की तबियत बिगड़ गई। जांच के बाद डॉक्टरों ने उन्हें भंडारा ले जाने की सलाह दी। लेकिन भंडारा जाते वक्त रास्ते में ही उनकी मौत हो गई। दूसरी घटना में धारगाव में 70 वर्षीय दिव्यांग महिला की लू लगने से मौत हो गयी। गोंदिया जिले के अर्जुनी मोरगांव तालुका के निमगाव के सुरेश उरकुडा गेडाम (45) की भी लू लगने से मौत हो गई।