हथियारबंद डकैती, सोने के आभूषण चुराते समय 23 साल की लड़की का अपहरण; छह संदिग्धों को हिरासत में लिया गया

धुले: धुले जिले के सकरी में पांच से सात लुटेरों ने चाकू और बंदूक का भय दिखाकर एक 23 वर्षीय लड़की का सोने और चांदी के आभूषणों के साथ अपहरण कर लिया है. इस घटना से जिले में काफी सनसनी फैल गयी है. रिहायशी मकान से युवती के अपहरण से इलाके में भय का माहौल है. सकरी थाने में मामला दर्ज कर लिया गया है और पुलिस आगे की जांच कर रही है.
धुले जिले के सकरी शहर में अज्ञात लोगों ने एक घर में डकैती की और 88 हजार 500 रुपये के आभूषण लूटने के बाद एक युवती का अपहरण कर लिया। इस मामले में पुलिस ने कुछ ही घंटों के अंदर छह संदिग्धों को हिरासत में लिया है. महिला ने बताया कि इस घटना में लुटेरों ने मुंह पर नकाब बांधा था और हिंदी में बात की थी.
सकरी टाउन के नवापुर रोड स्थित सरस्वती कॉलोनी निवासी ज्योत्सना पाटिल (40 वर्ष) और उनकी भतीजी निशा शेवाले टीवी देख रहे थे, तभी उन्होंने अपने दरवाजे पर दस्तक सुनी। जब घर का दरवाजा खोला गया तो छह अज्ञात लोग घर में घुस आए और धारदार हथियार से दोनों को डराया-धमकाया। उनकी अलमारी में रखी सेफ से करीब 88 हजार पांच सौ रुपये के सोने-चांदी के आभूषण चोरी हो गए। साथ ही निशा शेवाले ने ज्योत्सना पाटिल के हाथ-पैर बांधकर उसका अपहरण कर लिया और अपने साथ ले गई. इस संबंध में सकरी थाने में मामला दर्ज किया गया है और पुलिस ने कुछ ही घंटों में छह संदिग्धों को हिरासत में लिया है.
ज्योत्सना पाटिल के पति पाटिल किसी काम से संगमनेर गए हुए थे. चूँकि ज्योत्सना घर पर अकेली थी, इसलिए उसने अपनी भतीजी निशा शेवाले को घर पर सोने के लिए बुलाया। निशा एक मेडिकल दुकान में काम करती है। घटना रात 10:30 से 11:00 बजे के बीच की है जब निशा और ज्योत्सना खाना खाने के बाद बातें कर रही थीं. लुटेरों के चेहरे पर नकाब थे। उसके हाथ में बंदूक और चाकू भी था. लुटेरों ने न सिर्फ अलमारी से आभूषण चुराये बल्कि शरीर से भी आभूषण छीन लिये.